Category: Jindagi poetry

Life poem

Best Life poem l कुछ अनकहे ख्वाबों का कारवांBest Life poem l कुछ अनकहे ख्वाबों का कारवां

Life poem मेरे ख्वाब यू सिमट गए कि अब तो परछाई भी उसकी धुंधली सी नजर आने लगी, मैंने ख्वाबों का पीछा किया कुछ इस कदर कि अब तो खुद